व्यापारियों की राय

विदेशी मुद्रा व्यापार करने के लिए सबसे अच्छा दिन

विदेशी मुद्रा व्यापार करने के लिए सबसे अच्छा दिन
विदेशी मुद्रा भंडार से एक साल से अधिक के आयात खर्च की पूर्ति आसानी से की जा सकती है।

मार्च में रहा रूबल का सबसे अच्छा प्रदर्शन

इस मुद्रा में लगातार तेजी आई है और मार्च के पहले सप्ताह में दर्ज अपने निचले स्तर से डॉलर के मुकाबले 60 प्रतिशत तक की वृद्घि दर्ज की गई है। मंगलवार को दिन के कारोबार में रूबल डॉलर के मुकाबले चढ़कर 83 पर पहुंच गया जबकि 7 मार्च को इसने डॉलर के मुकाबले 139 का रिकॉर्ड निचला दर्ज किया था।

ताजा तेजी की वजह से, रूबल 24 फरवरी को यूक्रेन पर रूस द्वारा किए गए हमले से पहले के मुकाबले सिर्फ लगभग 10 प्रतिशत नीचे है। ब्लूमबर्ग से प्राप्त आंकड़े के अनुसाररूबल यूक्रेन हमले से पहले करीब 76 के आसपास कारोबार कर रही थी।

विश्लेषकों का कहना है कि रूबल में यूक्रेन हमले के बाद आई गिरावट रूस पर यूरोपीय और अमेरिकी प्रतिबंधों की गंभीरता की वजह से अब कुछ कमजोर पड़ी है। रूस पर इन प्रतिबंधों के तहत, अमेरिका और यूरोपीय संघ ने रूसी केंद्रीय बैंक का 640 अरब डॉलर के विदेशी मुद्रा भंडार में से करीब आधा रूस से बाहर के बैंकों में सील कर दिया है।

विदेशी मुद्रा: चार अरब डॉलर से ज्यादा बढ़ा देश का भंडार, जानिए इससे कैसे होगा फायदा

विदेशी मुद्रा भंडार

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा विदेशी मुद्रा व्यापार करने के लिए सबसे अच्छा दिन जारी आंकड़ों के अनुसार, देश का विदेशी मुद्रा भंडार नौ अप्रैल को समाप्त सप्ताह में 4.34 अरब डॉलर बढ़कर 581.21 अरब डॉलर हो गया। दो अप्रैल को समाप्त सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार 2.42 अरब विदेशी मुद्रा व्यापार करने के लिए सबसे अच्छा दिन डॉलर घटकर 576.28 अरब डॉलर और 26 मार्च 2021 को समाप्त सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार 2.99 अरब डॉलर घटकर 579.28 अरब डॉलर रह गया था। विदेशी मुद्रा भंडार, 29 जनवरी 2021 को समाप्त सप्ताह में 590.18 अरब डॉलर के अब तक के उच्चतम स्तार पर था।

इसलिए आई तेजी
रिजर्व बैंक के आंकड़ों के अनुसार नौ अप्रैल 2021 को समाप्त समीक्षाधीन सप्ताह में विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियों (एफसीए) के बढ़ने की विदेशी मुद्रा व्यापार करने के लिए सबसे अच्छा दिन वजह विदेशी मुद्रा भंडार में बढ़त हुई है। विदेशीमुद्रा परिसंपत्तियां, कुल विदेशी मुद्रा भंडार का मुख्य हिस्सा हैं। रिजर्व बैंक के साप्ताहिक आंकड़ों के अनुसार समीक्षाधीन अवधि में एफसीए 3.02 अरब डॉलर बढ़कर 539.45 अरब डॉलर हो गईं। एफसीए को दर्शाया डॉलर में जाता है, विदेशी मुद्रा व्यापार करने के लिए सबसे अच्छा दिन लेकिन इसमें यूरो, पौंड और येन जैसी अन्य विदेशी मुद्रा सम्पत्तियां भी शामिल होती हैं।

विस्तार

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, देश का विदेशी मुद्रा भंडार नौ अप्रैल को समाप्त सप्ताह में 4.34 अरब डॉलर बढ़कर 581.21 अरब डॉलर हो गया। दो अप्रैल को समाप्त सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार 2.42 अरब डॉलर घटकर 576.28 अरब डॉलर और 26 मार्च 2021 को समाप्त सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार 2.99 अरब डॉलर घटकर 579.28 अरब डॉलर रह गया था। विदेशी मुद्रा भंडार, 29 जनवरी 2021 को समाप्त विदेशी मुद्रा व्यापार करने के लिए सबसे अच्छा दिन सप्ताह में 590.18 अरब डॉलर के अब तक के उच्चतम स्तार पर था।

इसलिए आई तेजी
रिजर्व बैंक के आंकड़ों के अनुसार नौ अप्रैल 2021 को समाप्त समीक्षाधीन सप्ताह में विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियों (एफसीए) के बढ़ने की वजह विदेशी मुद्रा भंडार में बढ़त हुई है। विदेशीमुद्रा परिसंपत्तियां, कुल विदेशी मुद्रा भंडार का मुख्य हिस्सा हैं। रिजर्व बैंक के साप्ताहिक आंकड़ों के अनुसार समीक्षाधीन अवधि में एफसीए 3.02 अरब डॉलर बढ़कर 539.45 अरब डॉलर हो गईं। एफसीए को दर्शाया डॉलर में जाता है, लेकिन इसमें यूरो, पौंड और येन जैसी अन्य विदेशी मुद्रा सम्पत्तियां भी शामिल होती हैं।

विदेशी मुद्रा भंडार और विदेशी मुद्रा व्यापार करने के लिए सबसे अच्छा दिन स्वर्ण भंडार फिर लुढ़का

Kavita Singh Rathore

राज एक्सप्रेस। देश में जितना भी विदेशी विदेशी मुद्रा व्यापार करने के लिए सबसे अच्छा दिन मुद्रा भंडार और स्वर्ण भंडार जमा होता है, उसके विदेशी मुद्रा व्यापार करने के लिए सबसे अच्छा दिन आंकड़े समय-समय पर भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा जारी किए जाते हैं। इन आंकड़ों में हमेशा ही उतार-चढ़ाव देखने को मिलता है। काफी समय तक विदेशी मुद्रा भंडार (Foreign Exchange Reserves) में गिरावट के बाद पिछले सप्ताह दर्ज हुई बढ़त के बाद अब एक बार फिर इसमें बड़ी गिरावट दर्ज की गई है। हालांकि, स्वर्ण भंडार (Gold Reserves) में इस बार बढ़त दर्ज हुई है। इस बात का खुलासा RBI द्वारा जारी किए गए ताजा आंकड़ों से होता है। बता दें, यदि विदेशी मुद्रा परिस्थितियों में बढ़त दर्ज की जाती है तो, कुल विदेशी विनिमय भंडार में भी बढ़त दर्ज होती है।

विदेशी मुद्रा व्यापार करने के लिए सबसे अच्छा दिन

follow Us On

India China trade: आत्मनिर्भर भारत की राह में चीन सबसे बड़ा रोड़ा, जानिए क्यों

India China trade relations: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 76वें स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) पर अपने संबोधन में देशवासियों को अगले 25 साल में विकसित राष्ट्र (Developed country ) विदेशी मुद्रा व्यापार करने के लिए सबसे अच्छा दिन बनाने का संकल्प लेने की बात की.

विकसित राष्ट्र विदेशी मुद्रा व्यापार करने के लिए सबसे अच्छा दिन बनने के लिए हमें कई मोर्चों पर आत्मनिर्भर होने की जरूरत होगी. अगर वस्तुओं के आयात को ही भारत संतुलित कर सके, तो बहूमूल्य विदेशी मुद्रा बचाने के साथ साथ देश की अर्थव्यवस्था भी बेहतर होगी. इससे रोजगार का सृजन होगा, प्रति व्याक्ति आय भी बढ़ेगी, इससे हम विकसित भारत के सपने को साकार कर सकेगें.

दो साल के निचले स्‍तर पर पहुंचा विदेशी मुद्रा भंडार, देश की अर्थव्‍यवस्‍था पर होगा असर?

दो साल के निचले स्‍तर पर पहुंचा विदेशी मुद्रा भंडार, देश की अर्थव्‍यवस्‍था पर होगा असर?

दो साल के निचले स्‍तर पर पहुंचा विदेशी मुद्रा भंडार (फाइल फोटो)

भारत का विदेशी मुद्रा भंडार दो वर्षों में सबसे निचले स्तर पर आ गया। भारतीय रिजर्व बैंक की ओर से पेश की गई रिपोर्ट में जानकारी दी गई विदेशी मुद्रा व्यापार करने के लिए सबसे अच्छा दिन है। आरबीआई के अनुसार, रुपए 80 प्रति डॉलर के नीचे चला गया है, वहीं आरबीआई ने इसे ऊपर रखने के लिए काफी प्रयास किया था।

आरबीआई के साप्ताहिक सांख्यिकीय आंकड़ों के अनुसार, देश का विदेशी मुद्रा भंडार 19 अगस्त विदेशी मुद्रा व्यापार करने के लिए सबसे अच्छा दिन को समाप्त सप्ताह में 6.687 अरब डॉलर गिरकर 564.053 अरब डॉलर हो गया, जो दो साल में सबसे कम और लगातार तीसरे सप्ताह में गिरावट है। नवीनतम सप्ताह में गिरावट की मात्रा, 6.687 बिलियन डॉलर है, जो जुलाई के मध्य के बाद सबसे बड़ी थी।

रेटिंग: 4.39
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 859
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *