निवेश योजना

विदेशी मुद्रा सफलता पथ

विदेशी मुद्रा सफलता पथ

देसी फार्मा क्षेत्र में सुधार की उम्मीद

निफ्टी फार्मा इंडेक्स पिछले साल के दौरान सबसे खराब प्रदर्शन करने वाला दूसरा निफ्टी सेक्टोरल सूचकांक था और इसमें 13 प्रतिशत से ज्यादा की कमजोरी आई। दो साल की अव​धि के दौरान भी इसका कमजोर प्रदर्शन बरकरार रहा। यह एक अंक (6 प्रतिशत) का प्रतिफल देने विदेशी मुद्रा सफलता पथ वाला एकमात्र सूचकांक रहा।

अमेरिकी बाजार में मूल्य निर्धारण दबाव, बढ़ती कच्चे माल की लागत, विदेशी मुद्रा सफलता पथ नियामकीय चुनौतियां, भारतीय बाजार में कई सेगमेंटों में असमान वृद्धि (फॉर्मूलेशन और एपीआई सेगमेंट दोनों में) ऐसे कुछ कारण थे, जिनकी वजह से निवेशक दवा निर्माताओं से विदेशी मुद्रा सफलता पथ दूर बने रहे। 2022-23 की अप्रैल-जून तिमाही में वित्तीय परिणाम ने शायद इस क्षेत्र के लिए वृद्धि संबं​धित चिंताओं को बढ़ाया है।

बड़ी कंपनियों के राजस्व में करीब 30-40 प्रतिशत योगदान देने वाले अमेरिकी व्यवसाय में सालाना आधार पर 4 प्रतिशत की गिरावट आई है। ऐ​क्सिस कैपिटल के अनुसार, यह गिरावट कीमतों में कमी और ऊंची प्रतिस्पर्धा की वजह से दर्ज की गई, जैसा कि ल्यूपिन और सिप्ला के मामले में उनके ब्रोवेना के जेनेरिक वर्सन के लिए देखा गया। इस ब्रॉनोडायलेटर का इस्तेमाल ऑब्सट्रटिक पल्मोनरी रोग के उपचार में किया जाता है। भारतीय व्यवसाय की वृद्धि सालाना आधार पर 2 प्रतिशत तक घटी, क्योंकि इस पर कोविड की वजह से प्रभाव पड़ा।

इस क्षेत्र के लिए तिमाही में बड़ा प्रभाव मार्जिन के मोर्चे पर दर्ज किया गया था। तिमाही में परिचालन मुनाफा मार्जिन सालाना आधार पर 400 आधार अंक तक घट गया, क्योंकि कच्चे माल की कीमतों पर दबाव देखा गया जिससे सकल मार्जिन पर भी नकारात्मक असर हुआ।

सेंट्रम रिसर्च की शोध विश्लेषक अल्का कटियार का कहना है, ‘तिमाही का प्रदर्शन हमारे अनुमानों के अनुसार काफी विदेशी मुद्रा सफलता पथ हद तक कमजोर रहा, क्योंकि इस अव​धि के दौरान भारी मार्जिन दबाव और आय में कमजोरी दर्ज की गई। तिमाही प्रदर्शन बढ़ती कच्चे माल की लागत, माल ढुलाई लागत, परिचालन खर्च में वृद्धि की वजह से प्रभावित हुआ जिससे मार्जिन विदेशी मुद्रा सफलता पथ पर भी नकारात्मक असर दिखा।’

इसके अलावा, नियामकीय चुनौतियों की वजह से सन फार्मास्युटिकल इंडस्ट्रीज, डॉ. रेड्डीज लैबोरेटरीज, जाइडस हेल्थकेयर, ल्यूपिन, टॉरंट फार्मास्युटिकल्स, और सिप्ला जैसी जेनेरिक कंपनियों की समस्याएं बढ़ने का अनुमान है।

मोतीलाल ओसवाल रिसर्च में विश्लेषक तुषार मनुधाने का कहना विदेशी मुद्रा सफलता पथ है, ‘ऑफी​शियल एक्शन इनी​शिएटेड (ओएआई- अत्य​धिक नियामकीय जो​खिम से संबं​धित) प्रमाणन की संख्या विदेशी मुद्रा सफलता पथ बढ़ने, उपचारात्मक कदमों के क्रियान्वयन के बाद अमेरिकी दवा नियामक द्वारा निरीक्षण में विलंब, और अनुपालन की बढ़ती जरूरतों ने भारतीय दवा कंपनियों के लिए नियामकीय जो​खिम बढ़ा दिए हैं। ओएआई प्रमाणन की लंबी अव​धि ने संबं​धित संयंत्रों से दवा मंजूरी विदेशी मुद्रा सफलता पथ में विलंब को बढ़ावा दिया है।’

हालांकि कुछ कंपनियों ने संभावित नियामकीय कदमों के जो​​खिम को कम करने के लिए वैक​ल्पिक संयंत्रों से आवेदन करने पर जोर दिया है, लेकिन इसकी वजह से इन संयंत्रों में कम इस्तेमाल दर और प्रतिफल अनुपात को बढ़ावा मिला है।

इन चिंताओं और आधार पोर्टफोलियो में मौजूदा कीमत गिरावट को देखते हुए मोतीलाल ओसवाल रिसर्च ने ग्लैंड फार्मा और लौरुस लैब्स जैसी कंपनियों को पसंद किया है, जिन्होंने अपने जेनेरिक प्रतिस्प​र्धियों के मुकाबले बेहतर अनुपालन में सफलता हासिल की है। हालांकि अन्य ब्रोकरों का मानना है कि कमजोर प्रदर्शन कर रहे फार्मा क्षेत्र का रिस्क-रिवार्ड भविष्य में अ​धिक अनुकूल बनाने वाले कई कारक मौजूद हैं।

सिस्टमैटिक्स इंस्टीट्यूशनल इ​क्विटीज के विश्लेषकों विशाल मनचंदा और बेजाड देबू ने ऐसे चार कारकों की पहचान की है जो इस क्षेत्र के सकारात्मक परिदृश्य से जुड़े हुए हैं। ये हैं - नरम पड़ रहा मुद्रास्फीति दबाव, अमेरिकी बाजार में कम कीमत गिरावट, कॉम्पलेक्स जेनेरिक्स में बिक्री के अवसर, और ब्रांडेड फॉर्मूलेशन में विकास संभावनाएं।

ब्रोकरेज ने सन फार्मा, सिप्ला, डॉ. रेड्डीज, अजंता फार्मा, और इंडोको रेमेडीज पर ‘खरीदें’ रेटिंग दी है। ब्रोकरेज का मानना है कि बड़े अमेरिकी जुड़ाव वाली कंपनियां कीमतों पर बढ़ते दबाव और क्रियान्वयन से जुड़ी अनि​श्चितता की वजह से गिरावट पर कारोबार कर रही हैं और हालात बदलने पर परिणाम सकारात्मक हो सकता है।

अमेरिकी बाजार के अलावा, दलाल पथ भारतीय बाजार के परिदृश्य पर भी उत्साहित है, जो कीमत वृद्धि की मदद से लगातार तीसरे महीने (अगस्त में) अच्छी बढ़त दर्ज विदेशी मुद्रा सफलता पथ करने में कामयाब रहा।

LovesTheTeam.com

विदेशी मुद्रा पर खिलाड़ियों की शुरुआत कभी-कभी प्रतीक्षा में होती हैअप्रत्याशितता, जिसके लिए वे पूरी तरह से तैयार नहीं हैं। एक सफल व्यापारी बनने के लिए, आपको मुद्रा व्यापार की कुछ विशेषताओं को याद रखना होगा और बुनियादी नियमों को स्पष्ट रूप से समझना होगा जो शुरुआती गलतियों के लिए सामान्य से बचने में मदद करेंगे।

विदेशी मुद्रा व्यापार: सफलता की सामग्री

जो लोग बारीकियों को माहिर में पहला कदम उठाते हैंविदेशी मुद्रा बाजार में व्यापार, पहली जीत के अलावा, अपरिहार्य हार हैं यह बेहद स्पष्ट होना आवश्यक है कि प्रारंभिक अवस्था में गलतियां अपरिहार्य हैं, और उनका विश्लेषण कैसे करें। केवल यह दृष्टिकोण भविष्य में कष्टप्रद भूलों से बचना होगा और उन्हें व्यक्तिगत त्रासदी के रूप में नहीं माना जाएगा। एक सकारात्मक मनोवैज्ञानिक रुख एक सफल व्यापारी की सफलता के महत्वपूर्ण घटकों में से एक है। kulakVozmozhno में इकट्ठा करेगा इससे पहले कि आप मुक्त तैराकी करने के लिए विदेशी मुद्रा बाजार का विस्तार जाना, यह सहायकों के रूप में अधिक अनुभवी संरक्षक है जो सिर्फ सही रणनीति चुनने के बारे में सलाह के साथ मदद करने के लिए अपने कंधे स्थानापन्न कर सकते हैं लेने के लिए व्यापार के अपने चुने हुए दिशा में खामियों का कहना है के लिए आवश्यक है। अन्यथा, शुरुआत में डर लग सकता है जो आत्मविश्वास को कम करता है, जिसके कारण नए लेनदेन में प्रवेश की इच्छा पूरी तरह से गायब हो जाती है। और एक व्यापारी के रूप में इस तरह के अपने कैरियर को पूरा करने से पहले कम से कम कुछ योग्य लाभ प्राप्त किए जा सकते हैं। घाटे की अनिवार्यता को समझना, विशेष रूप से शुरुआत में, आपको आतंक की अनुमति नहीं देगा, और अपनी गलतियों का विश्लेषण करने के बाद आगे बढ़ें। दूसरे शब्दों में, बाजार में व्यापार ठंड गणना की आवश्यकता है, अपने स्वयं के भावनाओं को रोकने के लिए और जो लोग धैर्यपूर्वक कि कांटेदार पथ जाने के इच्छुक नहीं हैं, यह शुरू करने के लिए नहीं है, और पैसा कमाने के लिए अन्य, कम जोखिम भरा तरीकों की तलाश करने के लिए बेहतर है। हमारी अपनी रणनीति विकसित करना सफलता का दूसरा आवश्यक घटक अपनी खुद की व्यापारिक रणनीति के विकास को कह सकता है। जिनके पास लेनदेन की एक अच्छी तरह से विकसित योजना है, उनके पास अन्य बाजार सहभागियों से बहुत विदेशी मुद्रा सफलता पथ अधिक लाभ होता है। सफलतापूर्वक संकलित व्यापार प्रणाली पूंजी प्रबंधन और कैसे करने के विदेशी मुद्रा सफलता पथ लिए, और कैसे जोखिम की गणना सही करने के लिए, और प्रवेश और निकास लेनदेन के बिंदुओं की पहचान शामिल होना चाहिए। जो लोग सफलता के लिए सड़क पर हर कदम की गणना नहीं करते हैं, लेकिन सहजता से, वृत्ति द्वारा कार्य करना पसंद करते हैं, वे खुद को एक नकारात्मक बैलेंस शीट में पाते हैं। बेशक, यह संभावना नहीं है कि अपनी खुद की प्रणाली बनाने के लिए मूल समाधान मिलना संभव होगा, यह सब अनुभव के अधिग्रहण के साथ आता है। लेकिन व्यापार के नाम से जाना जाता तरीकों पर बने रहें अपनाने के लिए काम कर रहा सफल व्यापारियों के तरीकों पहला कदम से आवश्यक है। भविष्य के लिए, यह याद है कि यहां तक ​​कि सबसे "मुश्किल" और कल्पना आप द्वारा डिजाइन रणनीति व्यक्तिगत रूप से, संभव और अधिक मोबाइल के रूप में के रूप में आसान होना चाहिए लायक है। यही है, इसे इस तरह से बनाया जाना चाहिए कि बाजार की मौजूदा स्थिति के अनुसार इसके कुछ दिशा-निर्देशों को बदलने में सक्षम हो।

चीन का विदेशी मुद्रा भंडार 30 खरब 29 अरब डॉलर

चीन का विदेशी मुद्रा भंडार 30 खरब 29 अरब डॉलर

बजिंग, 7 अक्टूबर (SuryyasKiran)। चीनी राजकीय विदेशी मुद्रा प्रबंधन ब्यूरो द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार इस सितंबर के अंत तक चीन का विदेशी मुंद्रा भंडार 30 खरब 29 अरब अमेरिकी डॉलर रहा, जिसमें इस अगस्त के अंत की तुलना में 0.85 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गयी।

चीनी राजकीय विदेशी मुद्रा विदेशी मुद्रा सफलता पथ प्रबंधन ब्यूरो की उप निदेशक और प्रवक्ता वांग छुनइंग के मुताबिक इस साल सितंबर में सीमा पार पूंजी की बहाली आम तौर पर स्थिर रही। विदेशी मुद्रा की सप्लाई और मांग संतुलित बनी रही।

उन्होंने बताया कि अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय बाजार में अमेरिकी डॉलर का सूचकांक और बढ़ रहा है और वैश्विक वित्तीय संपत्ति की कीमतों में बड़ी गिरावट नजर आ रही है। विनिमय दर और संपत्ति की कीमतों के बदलाव से इस सितंबर में विदेशी मुद्रा भंडार का पैमाना थोड़ा कम हुआ है।

रेटिंग: 4.48
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 797
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *