शुरुआती लोगों के लिए अवसर

बिटकॉइन पर कैसे टैक्स लगता है

बिटकॉइन पर कैसे टैक्स लगता है
अंत मे मैं यही कहना चाहता हूँ कि क्रिप्टो करेंसी पे निवेश करना गलत नही है लेकिन हैं जब भी आप निवेश करने की सोचे तो उससे पहले आपको उसकी पूरी जानकारी ले लेनी चाहिए जैसे , कॉइन स्टेबल है या नही , कॉइन पिछले साल कितनी प्रतिशत बढ़ी है , कॉइन कितनी साल पुरानी है और भी उस कॉइन या क्रिप्टो करेंसी के बारे मे अच्छे से जांच पड़ताल करने के बाद ही निवेश करे अन्यथा आपको हानि हो सकती है ।

Cryptocurrency tax

बिटकॉइन (Bitcoin) कैसे और कहा से ख़रीदे

बिटकॉइन आज कल दिन प्रतिदिन काफी पोपुलर होता जा रहा है एक समय था जब बिटकॉइन की कीमत इतनी कम था की कोई इसमें इन्वेस्ट करना ही नहीं चाहता लेकिन आज देखो देश भर में इसे खरीदने की होड़ लगी है हर कोई बिटकॉइन को खरीदने के पीछे पागल है लेकिन कुछ लोगो को नहीं पता की बिटकॉइन पर कैसे टैक्स लगता है आखिर ये बिटकॉइन ख़रीदे कहा से इसे कैसे ख़रीदा और बेचा जाता है तो आज इस आर्टिकल में हम आपको बताएँगे आखिर ये बिटकॉइन होता क्या है इसे कैसे ख़रीदे और बेचे ? (What is bitcoin information in Hindi) व्हाट इस बिटकॉइन इन हिंदी ? (How to buy and sell bitcoin in india ) हाउ टो बाई एंड सेल बिटकॉइन इन इंडिया पूरी जानकारी इन हिंदी इसके साथ ही हम आपको बताएँगे की कैसे आप फ़िलहाल 1 बिटकॉइन की कीमत कितनी है भारत में ये सबसे आप कैसे पता कर सकते है इसके बारे में बताएँगे और क्या इंडिया में बिटकॉइन खरीदना लीगल (legal) है या इललीगल(Illegal) इसके बारे में भी जानेंगे.

बिटकॉइन क्या है पूरी जानकारी हिंदी में (What is Bitcoin information in hindi)

अगर हम बात करे बिटकॉइन की एक सिंपल भाषा में तो ये एक वर्ल्ड वाइड (World Wide) यानि पूरी दुनिया में फेला हुआ एक वर्चुअल (Virtual) और क्रिप्टो करेंसी (Crypto Currency) है जिसका मतलब ये है की ये एक ऐसा पैसा (Money) है जिसे न तो आप देख सकते है और न ही छु सकते है ये एक तरह की डिजिटल करेंसी (Digital Currency) है जिसे आप इन्टरनेट में किसी वॉलेट (Bitcoin Wallet) में सेव करके रखते है और जरुरत पड़ने पर आप इसे इस्तेमाल कर सकते है ये एक तरह पैसा ही होता है जी की रुपया , डॉलर ,पौंड इत्यादि करेंसी होते है सेम ये भी एक करेंसी है बस फरक इतना है की इसे आप छु या फिर देख नहीं सकते , इसकी कीमत हमेशा घटती बढ़ती रहतें है.

bitcoin in hindi

बिटकॉइन का क्या यूज़ है (Use of Bitcoin in Hindi)

  1. बिटकॉइन का इस्तेमाल आप ऑनलाइन चीजों को खरीदने और बेचने के लिए कर सकते है जैसा की हम आप जानते है ये के तरह का पैसा ही इसलिए इससे आप कुछ भी खरीद और बेच सकते है ऑनलाइन
  2. बिटकॉइन(Bitcoin) का इस्तेमाल आप ऑनलाइन इन्वेस्मेंट के लिए कर सकते है अगर आप इन्वेस्ट करने में इंटरेस्ट रखते है और कुछ समय बाद आप अच्छा रीटर्न चाहते है तो आप बिटकॉइन का इस्तेमाल कर सकते है हालाकि ये जरुर नही है बिटकॉइन से आप अच्छा पैसा कम सकते है इससे आपको घाटा भी हो सकता है
  3. बिटकॉइन पर कैसे टैक्स लगता है
  4. बिटकॉइन को आप पैसे में कन्वर्ट करके सीधा अपने बैंक अकाउंट में भेज सकते है

अगर आप बिटकॉइन की कीमत पता करनी है की फ़िलहाल 1 बिटकॉइन की कीमत कितनी है या फिर आगे चलके आपको जब भी बिटकॉइन की प्राइस पता करनी है चाहे वो डॉलर (Dollar) में हो या फिर रूपये में यानि आईएनआर(INR) तो इसके लिए आपको गूगल में जाके बस सर्च करना 1 bitcoin price in inr तो गूगल आपको बता देगा की फ़िलहाल बिटकॉइन की कीमत कितनी है इंडिया में तो इस तरह आप बिटकॉइन की कीमत का पता लगा सकते है कभी भी.

बिटकॉइन खरीदने के लिए जरुरी डाक्यूमेंट्स क्या क्या चाहिए

अगर आप इंडिया में बिटकॉइन खरीदना है तो इसके लिए आपके पास कुछ जरुरी डाक्यूमेंट्स होने चाहिए तभी आप बिटकॉइन को खरीद और बेच सकते है आइये जान लेते है ये जरुर डाक्यूमेंट्स क्या है (important documents for buying and selling bitcoins in india).

  • वोटर आईडी कार्ड (Voter id card)
  • आधार कार्ड (Aadhaar Card)
  • पेन कार्ड (Pan Card)
  • फ़ोन नंबर (Phone Number)
  • बैंक अकाउंट डिटेल्स (bank account details)

क्रिप्टोकरेंसी टैक्स क्या है । Cryptocurrency tax kya hai

भारत सरकार ने क्रिप्टोकरेंसी पर टैक्स जारी कर दिया है । कुछ समय पहले तक क्रिप्टो करेंसी पर किसी भी प्रकार का कोई टैक्स नही लगता था । हाँ कुछ एक्सचेंज प्लेटफार्म ट्रांसेक्शन या ट्रांसफर फीस लेते थे लेकिन वो भी फिक्स था । और कुछ लोगो का मानना था कि क्रिप्टो करेंसी भारत मे बैन है और कुछ का यह कि नही है । हालांकि क्रिप्टो करेंसी तो भविष्य है इस दुनिया का क्योंकि सारे लोग डिजिटल हो रहे हैं ऐसे में तो डिजिटल कॉइन या टोकन की जरूरत पड़ेगी ही जैसे आज पैसे की जरूरत है । इस वजह से भारत सरकार ने फैसला किया कि हम बैन नही करेंगे लेकिन जो व्यक्ति इसकी खरीद बिक्री करेगा उसके लिए कुछ नियम कानून बनाया जाएगा । नियम जरूरी भी थी क्यों कि अगर सरकार बिटकॉइन पर कैसे टैक्स लगता है न आती तो शायद क्रिप्टो करेंसी का गलत उपयोग होने लगेगा । इन्ही कुछ कारणो से सरकार इसपर टैक्स लगा कर सारे ट्रांसेक्शन पर नजर रखेगी ।

क्रिप्टोकरेंसी पे टैक्स कैसे लगेगा । cryptocurrency pe tax kaise lagega?

क्रिप्टो करेंसी पर टैक्स भारत मे बहोत ही गरम मुद्दा है । क्रिप्टो करेंसी पर टैक्स बिटकॉइन पर कैसे टैक्स लगता है बिटकॉइन पर कैसे टैक्स लगता है देना होगा इस बात से बहोत लोग डारे हुए हैं और निवेश करना छोड रहे हैं । लेकिन जो लोग छोड़ेंगे वो लोग बाद में पसताएँगे । चलिए आसान भाषा मे समझते हैं कि क्रिप्टो करेंसी पर बिटकॉइन पर कैसे टैक्स लगता है टैक्स कैसे लगेगा ।

  • चलिये हम मैन लेते हैं कि राहुल नाम का एक इंसान है जो क्रिप्टो करेंसी पे निवेश करना चाहता है । और उसके पास 15000 है निवाश करने के लिए ।
  • उसने अगले दिन कॉइन डीसीएक्स , वज़ीर एक्स या फिर कॉइन स्विच कुबेर में से किसी एक से अकॉउंट बना कर kyc कर के 5000 का शीबा इनु और 5000 बिटकॉइन खरीद लिया बाकी के 5000 का doge कॉइन खरीद लिया ।
  • लगाने में कोई टैक्स नही दिया उसने तो अपने पूरे पैसे का क्रिप्टो कॉइन बिटकॉइन पर कैसे टैक्स लगता है खरीद लिया । 🆗
  • अब 5 साल बीत गए उसने अपना अकॉउंट देखा तो शीबा इनु जो 5000 का लिया था वो 20000 (अनुमानित )बन गए और जो 5000 का बिटकॉइन खरीदा था वो 15000 बन गए और बाकी doge कॉइन से 1000 मिल रहे थे ।
  • अब जानिए की टैक्स कैसे लगेगा :

क्रिप्टोकरेंसी पर टैक्स कब से लगेगा । cryptocurrency par tax kab se lagega

हालांकि क्रिप्टो करेंसी पर टैक्स 1 अप्रैल से लगने वाले थे लेकिन शुत्रो की माने तो जो 30% टैक्स है वो लगना शुरू हो गया है और टीडीएस जो 1 % लगेगा वो 1 जुलाई से लगेगा ।

यदि आप कोई भी डिजिटल कॉइन खरीदते हैं क्रिप्टो करेंसी या nft तो आपको उसपे हुए मुनाफे का 30% सरकार को देना होगा । जैसे आप 10000 का बिटकॉइन खरीदे और आप उसको 15000 में बेच रहे हैं तो आपके 5000 का 30% नो की 1500 होगा तो आपको 13500 मिलेगा ।

बिटकॉइन पर क्यों है बवाल, समझिए क्यों बंटी दुनिया?

वीडियो प्रोड्यूसर: कनिष्क दांगी

वीडियो एडिटर: दीप्ति रामदास

टेक्नोलॉजी में दिलचस्पी रखने वाले लोगों के लिए दुनिया दो हिस्सों में बंट गई है. एक तरफ क्रिप्टोकरेंसी के मित्र खड़े हैं तो दूसरी तरफ क्रिप्टोकरेंसी के दुश्मन हैं. एक तरफ के लोगों को लगता है कि ये बहुत बड़ा बदलाव है जो बैंकिंग और फाइनेंसियल व्यवस्था को नए ढंग से परिभाषित करेगा. वहीं दूसरी तरफ के लोगों को लगता है कि ये फ़ैशन और स्कैम है.

निर्मला सीतारमण ने पिछले दिनों कहा कि हम क्रिप्टोकरेंसी को पूरी तरह बैन नहीं करेंगे, ब्लॉकचेन को इजाजत देंगे. लेकिन सूत्रों के मुताबिक बिटकॉइन जैसी करेंसी को ग़ैरक़ानूनी करार दिए जाने की बात की गई थी. इसलिए क्रिप्टो करेंसी की दुनिया में हलचल मची हुई है.

कॉइन बेस एक्सचेंज ने नैस्डैक पर लिस्ट होने की बात कही है. कॉइन बेस एक्सचेंज का मूल्य 68 बिलियन डॉलर है. वहीं वीजा के सीईओ ने कहा है कि क्रिप्टो में निवेश के लिए वीजा कार्ड से पेमेंट संभव हो सकेगा. इसके अलावा पेमेंट के लेनदेन के रूप में भी इसका इस्तेमाल होना चाहिए.

आखिर साइबर फिरौती बिटकॉइन में ही क्यों मांगी जा रही है?

दुनिया भर में रैनसमवेयर वायरस "ब्रॉनाकाई" से दशहत का माहौल बना हुआ है. वैश्विक साइबर हमले की भयावहता का अंदाज इससे लगाया जा सकता है कि 150 देशों के 2 लाख से ज्यादा कंप्यूटर बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं. इसमें फिरौती जिस मुद्रा में मांगी जा रही है, वह ‘बिटकॉइन’ है. अब प्रश्न उठता है कि बिटकॉइन की ऐसी क्या विशेषता है कि फिरौती इसी मुद्रा में मांगी जा रही है? सर्वप्रथम समझते हैं कि बिटकॉइन क्या है?

बिटकॉइन क्या है?

बिटकॉइन एक नई इनोवेटिव टेक्नोलॉजी है, जिसका इस्तमाल ग्लोबल पेमेंट के लिए किया जा रहा है. यह अनोखी और नई आभासी मुद्रा है. कंप्यूटर नेटवर्कों के द्वारा इस मुद्रा से बिना किसी मध्यस्थता(बिना बैंक) के ट्रंजेक्शन किया जा सकता है.

bitcoin, cyber crime

बिटकॉइन कैसे ख़रीदे (How to Buy Bitcoin)

आज के आधुनिक युग में बिटकॉइन को खरीदना बहुत आसान हो गया है इसके लिए हमें कही जाने की जरुरत नहीं है अब हम घर बैठे मोबाइल से ऑनलाइन बिटकॉइन खरीद सकते है। चलिए जानते है भारत में बिटकॉइन को किस क्रिप्टो करेंसी एक्सचेंज खरीद सकते है। भारत के कुछ महत्वपूर्ण क्रिप्टो एक्सचेंज की लिस्ट :-

आप ऊपर दिए गए किसी भी क्रिप्टो एक्सचेंज में अकाउंट खोल कर आप बिटकॉइन खरीद सकते है।

बिटकॉइन वॉलेट क्या है (What is Bitcoin Wallet)

जैसा कि हम जानते हैं कि बिटकॉइन एक वर्चुअल करेंसी है इसलिए इसे इलेक्ट्रिक तौर पर स्टोर करके रखा जा सकता है। इसके लिए हमें एक बिटकॉइन वॉलेट की जरूरत होती है इस वॉलेट कि एक यूनिक आईडी होती है जो इस वॉलेट का एड्रेस होता है। इसके माध्यम से हम बिटकॉइन को भेज और प्राप्त कर सकते हैं क्योंकि बिटकॉइन वॉलेट में कभी भी भेजने वाले और प्राप्त करने वाले का नाम नहीं पता किया जा सकता इसमें सिर्फ ट्रांजैक्शन यूनिक आईडी के माध्यम से ही होती है।

bitcoin wallet,bitcoin price

बिटकॉइन के फायदे (Benefits of Bitcoin)

  • बिटकॉइन को दुनिया में किसी भी व्यक्ति को कहीं भी भेज सकते हैं और प्राप्त कर सकते हैं और इसमें भेजने वाले का और प्राप्त करने वाले का नाम पता नहीं किया जा सकता है।
  • बिटकॉइन का अकाउंट कभी भी ब्लॉक नहीं होता जैसा कि बैंकों में अकाउंट ब्लॉक हो जाता है।
  • बिटकॉइन की ट्रांजैक्शन की फीस काफी कम है जिसकी वजह से अंतर्राष्ट्रीय लेनदेन में इसका काफी प्रयोग किया जा रहा है।

बिटकॉइन के फायदे जाने के बाद आइए जानते हैं बिटकॉइन के नुकसान के बारे में

  • इस पर किसी भी देश की अथॉरिटी ना होने के कारण इसका प्रयोग गैरकानूनी कामों के लिए बिटकॉइन पर कैसे टैक्स लगता है किया जा रहा है क्योंकि इसमें भेजने वाले का नाम और प्राप्त करने वाले का नाम पता नहीं किया जा सकता इसमें सिर्फ बिटकॉइन एक यूनिक आईडी के माध्यम से भेजा जाता है और प्राप्त किया जाता है।
रेटिंग: 4.72
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 710
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *