सर्वोत्तम उदाहरण और सुझाव

शेयरों की खरीद

शेयरों की खरीद
अमेरिका के न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज (New York Stock Exchange) पर ट्विटर इंक (Twitter Inc) के शेयरों की खरीद-बिक्री शुक्रवार को बंद रहेगी.

Expert Picks: इन शेयरों से होगी कमाई? नवंबर में SBI समेत खरीद सकते हैं ये 40 स्टॉक्स

बाजार के जानकारों का मानना है कि भले ही शॉर्ट टर्म में अस्थिरता का माहौल रह सकता है. लेकिन लंबी अवधि में बाजार का लेकर रुख सकारात्मक है. मौजूदा सेटअप के मुताबिक निवेशक गिरावट में चुनिंदा स्टॉक्स अपने पोर्टफोलियो में शामिल कर सकते हैं.

नवंबर महीने में खरीद सकते हैं ये स्टॉक्स (Photo: File)

aajtak.in

  • नई दिल्ली,
  • 04 नवंबर 2022,
  • (अपडेटेड 04 नवंबर 2022, 2:22 PM IST)

अक्टूबर महीने में तेजी के बाद शेयर बाजार (Share Market) से जुड़े कई एक्सपर्ट्स निवेशकों को नवंबर महीने में कमाई के लिए कई स्टॉक्स सुझा रहे हैं. अगर आप नवंबर महीने में निवेश के लिए स्टॉक का चयन कर रहे हैं, तो इन शेयर्स पर भी विचार कर सकते हैं.

Emkay Global ने निवेशकों को ज्यादातर लार्ज कैप कंपनियों के शेयरों में दांव लगाने के सुझाव दिए हैं. इसकी ओर से निवेशकों को नवंबर महीने में ICICI Bank, IndusInd Bank, Mahindra & Mahindra (M&M) और Maruti Suzuki में निवेश की सलाह दी गई है. जबकि मिडकैप और स्मॉलकैप कैटेगरी में इस फाइनेंसियल सर्विसेज को Aditya Birla Fashion और Retail, Ashok Leyland, Escorts Kubota, Karur Vysya Bank, Varun Beverages और Westlife Development पसंद है.

ग्रोथ वाली कंपनियों पर फोकस

सम्बंधित ख़बरें

सोने की कीमतों में आ सकती है भारी गिरावट, जानें- कितना गिरेगा भाव और क्यों?
इस भारतीय कंपनी के 'चीनी मालिक', हिस्सेदारी बेचने की खबर से शेयर बिखरा
आज से इस IPO में लगा सकते हैं पैसे, GMP से मोटी कमाई के संकेत
सेंसेक्स 600 अंक उछला, JSW-Maruti के Stock बने रॉकेट
Reliance के शेयरहोल्डर्स की बल्ले-बल्ले, एक हफ्ते में ताबड़तोड़ करोड़ों कमाए

सम्बंधित ख़बरें

वहीं ICICI Securities उन कंपनियों पर दांव लगाने की सलाह दी है, जो आगे बेहतर ग्रोथ दर्ज कर सकती है. ब्रोकेरज का पसंदीदा शेयर L&T, NTPC, Coal India, NHPC, UltraTech, JK Cement, Ashok Leyland, Balkrishna Industries, Tata Communications, Greenpanel, Century Plyboard, Indraprastha Gas, GAIL, ONGC, Gujarat Fluorochemicals, Brigade Enterprise और Phoenix Mills है.

जबकि Consumption थीम पर ICICI Securities ने टाटा मोटर्स, डाबर इंडिया, Nestle, Jyothy Labs, Sapphire Foods और Metro Brands को चुना है. हेल्थकेटर सेगमेंट में Dr Reddy's, Torrent Pharma और Alkem Lab का नाम है. वहीं बैंकिंग सेक्टर में SBI और IndusInd Bank पसंद है.

Ashika Stock Broking का नवंबर में Top Picks रिलायंस इंडस्ट्रीज, HDFC Bank और Titan Company है. ये तीनों लॉर्ज कैप कंपनियां है.

लंबी अवधि के नजरिये से बाजार में तेजी का अनुमान

इसके अलावा एक्सिस सिक्योरिटीज का मानना है कि महंगाई कम करने के लिए आक्रामक तरीके से कदम उठाए जा रहे हैं, जिससे सुधार की उम्मीद है. लेकिन इसके बावजूद तेल और कमोडिटी की बढ़ी हुईं कीमतें अगली कुछ तिमाहियों के लिए चुनौती बनी रहेंगी. हालांकि लॉन्ग टर्म के नजरिये से बाजार में ग्रोथ की उम्मीद है. भले ही शॉर्ट टर्म में अस्थिरता का माहौल रह सकता है. इसलिए मौजूदा सेटअप के मुताबिक हर गिरावट में खरीदने की सलाह होगी. निवेश के लिए कम से कम 12 से 18 महीने का नजरिया होना चाहिए.

इस ब्रोकरेज को आईसीआईसीआई बैंक, टेक महिंद्रा, मारुति सुजुकी इंडिया, एसबीआई, डालमिया भारत, फेडरल बैंक और वरुण बेवरेजेज के शेयर पसंद हैं. ब्रोकरेज को अशोक लीलैंड, एस्ट्रल, बाटा इंडिया, एपीएल अपोलो ट्यूब्स, हेल्थकेयर ग्लोबल एंटरप्राइजेज, प्राज इंडस्ट्रीज, सीसीएल प्रोडक्ट्स, पॉलीकैब इंडिया और बजाज फाइनेंस जैसे शेयर भी पसंद हैं. ब्रोकरेज को इन शेयरों में 11-33 फीसदी तक तेजी का अनुमान है.

एक साल में 400% का रिटर्न, दिग्गज निवेशक ने खरीद लिए कंपनी के 1 लाख शेयर

चालू वित्त वर्ष की Q2 के नतीजे धीरे-धीरे सामने आ रहे हैं। जिससे मार्केट के बड़ें निवेशकों का इन्वेस्टमेंट का भी पता चल रहा है। देश के दिग्गज निवेशक आशीष कचौलिया ने मेगा स्टार फूड पर दांव खेला है।

एक साल में 400% का रिटर्न, दिग्गज निवेशक ने खरीद लिए कंपनी के 1 लाख शेयर

चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही (Q2) के नतीजे धीरे-धीरे सामने आ रहे हैं। जिससे मार्केट के बड़ें निवेशकों का इन्वेस्टमेंट का भी पता चल रहा है। देश के दिग्गज निवेशक आशीष कचौलिया (Ashish Kacholia) ने मेगा स्टार फूड (Mega Star Foods) पर दांव खेला है। कंपनी के ताजा शेयर होल्डिंग पैटर्न में उनका नाम दिखा है। आइए जानते हैं दिग्गज निवेशक ने कितने शेयर खरीदे हैं। बता दें, कंपनी के शेयरों में आज 5 प्रतिशत का अपर सर्किट लग गया है।

मेगास्टार फूड्स लिमिटेड की दूसरी तिमाही के शेयर होल्डिंग पैटर्न के अनुसार आशीष कचौलिया के पास कंपनी 1,03,666 शेयर थे। यानी उनके पास इस कंपनी की 1.04 प्रतिशत हिस्सेदारी है। इससे पहले अप्रैल से जून तिमाही के दौरान कंपनी के शेयर होल्डिंग पैटर्न में उनका नाम नहीं था। बता दें, किसी कंपनी के शेयरहोल्डिंग पैटर्न में किसी निवेशक का नाम तब दिखता है जब उनकी हिस्सेदारी 1 प्रतिशत से अधिक होती है।

लिस्टिंग से पहले 29 रुपये प्रीमियम पर पहुंचा इस IPO का शेयर, आज हो सकता है शेयरों का अलॉटमेंट; ऐसे चेक करें स्टेटस

कंपनी ने कैसा दिया है रिटर्न?

हाल के साल में शेयर बाजार ने जिन कुछ मल्टीबैगर स्टॉक को प्रोड्यूस किए हैं उसमें मेगा स्टार फूड भी एक है। इस साल कंपनी के शेयरों का भाव 56 रुपये से बढ़कर 214 रुपये के लेवल पर जा पहुंचा है। यानी साल 2022 में कंपनी के शेयरों की कीमतों 300 प्रतिशत की उछाल देखने को मिली है। एक साल पहले कंपनी के एक शेयर की कीमत 30 रुपये थी। यानी सिर्फ एक साल में कंपनी के शेयरों में 400 प्रतिशत से अधिक की तेजी देखने को मिली है। 25 मई 2018 को बीएसई में कंपनी के एक शेयर की कीमत 30 रुपये थी, तब से अबतक कंपनी के शेयरों का भाव 630 प्रतिशत से अधिक उछल चुका है।

टेलीकॉम सर्विस के लिए अडानी को मिला लाइसेंस, Jio- एयरटेल को टक्कर!

कंपनी के 52 सप्ताह का उच्चतम स्तर 228.90 रुपये है। जबकि 52 सप्ताह का न्यूनतम स्तर 39 रुपये है। कंपनी का मार्केट कैप 215.03 करोड़ रुपये का है।

(डिस्‍क्‍लेमर: यहां सिर्फ शेयर के परफॉर्मेंस की जानकारी दी गई है, यह निवेश की सलाह नहीं है। शेयर बाजार में निवेश जोखिमों के अधीन है और निवेश से पहले अपने एडवाइजर से परामर्श कर लें।)

Best Stocks: गिरते बाजार में अभी खरीद सकते हैं ये 5 शेयर, लखपति को करोड़पति बनाने की ताकत!

रिसर्च फर्म सीएनआई रिसर्च (CNI Research) के सीएमडी किशोर ओस्तवाल (Kishor Ostwal) का मानना है कि अभी आई गिरावट ने स्टॉक मार्केट में इन्वेस्टमेंट का बढ़िया अवसर दिया है. ओस्तवाल ने ये दावा भी किया कि इंटेरेस्ट रेट बढ़ने के बाद भी अब बाजार ऊपर चढ़ेगा.

अभी शेयर खरीदने का बढ़िया मौका

सुभाष कुमार सुमन

  • नई दिल्ली,
  • 15 जून 2022,
  • (अपडेटेड 16 जून 2022, 8:59 AM IST)
  • इस साल करीब 2000 अंक टूट चुका है निफ्टी
  • अक्टूबर के बाद बिकवाली की चपेट में बाजार

दुनिया भर के शेयर बाजार (Share Market) अभी बिकवाली की चपेट में हैं. भारतीय शेयर बाजार (Indian Share Market) भी इससे अछूते नहीं हैं. विदेशी निवेशकों (FPI) की भारी बिकवाली, बढ़ती महंगाई, मंदी की आशंका आदि जैसे फैक्टर्स बाजार को संभलने का कोई मौका नहीं दे रहे हैं. बीएसई सेंसेक्स (BSE Sensex) और एनएसई निफ्टी (NSE Nifty) दोनों आज भी प्रेशर में कारोबार कर रहे हैं. पिछले पांच दिन में निफ्टी करीब 4 फीसदी टूटा है. इस साल अब तक निफ्टी करीब 2000 अंक यानी 11 फीसदी के नुकसान में है. लगातार आई गिरावट के चलते कई इन्वेस्टर्स घबराकर अपनी होल्डिंग्स बेच रहे हैं. हालांकि कई एक्सपर्ट बाजार में आए इस डिप को क्वालिटी स्टॉक्स खरीदने का बढ़िया मौका मान रहे हैं. उनका मानना है कि यह समय होल्ड करने और नया खरीदने का है.

रिसर्च फर्म सीएनआई रिसर्च (CNI Research) के सीएमडी किशोर ओस्तवाल (Kishor Ostwal) का मानना है कि अभी आई गिरावट ने स्टॉक मार्केट में इन्वेस्टमेंट का बढ़िया अवसर दिया है. ओस्तवाल ने ये दावा भी किया कि इंटेरेस्ट रेट बढ़ने के बाद भी अब बाजार ऊपर चढ़ेगा. उन्होंने कहा कि अभी कई ऐसे सेक्टर हैं, जिनके स्टॉक्स खरीदने से आने वाले समय में बढ़िया रिटर्न मिल सकता है. उन्होंने कहा कि चीनी और गेहूं से जुड़े स्टॉक्स को खरीदना फायदे का सौदा है. उन्होंने पांच ऐसे शेयरों के बारे में भी बताया, जिनमें अभी इन्वेस्ट करना सही साबित हो सकता है.

टाइटन (Titan): टाटा समूह की इस कंपनी का शेयर आज के कारोबार में मामूली मजूबती में रहा है. हालांकि यह पिछले पांच दिन, एक महीने, छह महीने और इस साल अब तक के हिसाब से गिरा हुआ है. पिछले छह महीने में यह स्टॉक करीब 10 फीसदी गिरा है. इस साल जनवरी से अब तक इसके भाव में 16 फीसदी से ज्यादा गिरावट आई है. इसका 52-वीक हाई 2,768 रुपये है, जबकि अभी यह 2,100 रुपये के आस-पास ट्रेड कर रहा है. इस तरह यह स्टॉक 'Buy The Dip' की लिस्ट में पसंदीदा बन जाता है.

सम्बंधित ख़बरें

कल हो सकती है इस IPO की लिस्टिंग, ग्रे मार्केट में शेयर का धमाल
दिवाली के दिन खुलेगा स्टॉक मार्केट, ये शेयर खरीदना हो सकता शुभ!
Tata Steel, IndusInd के शेयर चढ़े, बाजार ने की ठोस शुरुआत
RIL, HDFC के शेयर हुए धड़ाम. वोलेटाइल ट्रेड में छठे दिन भी गिरा बाजार
Top Picks: नवरात्रि पर खरीदें ये 9 स्टॉक्स, हो सकती है धनवर्षा!

सम्बंधित ख़बरें

एशियन पेंट्स (Asian Paints): इस ब्लूचिप स्टॉक का भाव अभी ऑल टाइम हाई शेयरों की खरीद से करीब 1000 रुपये नीचे आया हुआ है. कभी यह स्टॉक 3,590 रुपये के हाई तक गया था, लेकिन अभी 2,650 रुपये के आस-पास ट्रेड कर रहा है. इस साल अब तक इसका भाव 22 फीसदी से ज्यादा गिरा है, जबकि बीते छह महीने में इसमें 19.50 फीसदी की गिरावट आई है. पिछले एक महीने में ही इस स्टॉक में 11 फीसदी से ज्यादा की गिरावट आई है.

इंफोसिस (Infosys): भारत की दूसरी सबसे बड़ी आईटी कंपनी इंफोसिस लिमिटेड इन्वेस्टर्स की पसंदीदा रही है. आज भी इस आईटी कंपनी का स्टॉक करीब 1.50 फीसदी तक की गिरावट में है और 1,420 रुपये के आस-पास है. एक समय इस स्टॉक का भाव 1,953.90 रुपये के हाई तक पहुंचा था. इस साल जनवरी से अब तक इंफोसिस का शेयर 25 फीसदी से ज्यादा गिरा है. इसी तरह बीते छह महीने में इसमें करीब 18 फीसदी की गिरावट आई है.

रेणुका शूगर (Renuka Sugar): ग्लोबल फूड क्राइसिस के मौजूद दौर में गेहूं के बाद सबसे ज्यादा भाव चीनी के ही बढ़े हैं. इसी कारण भारत सरकार ने गेहूं के बाद चीनी के एक्सपोर्ट पर भी पाबंदियां लगा दी हैं. सरकार चाहती है कि घरेलू बाजार में चीनी की पर्याप्त उपलब्धता बनी रहे और कीमतें अधिक न बढ़ें. इसके अलावा इथेनॉल पर सरकार के फोकस से भी चीनी कंपनियों के स्टॉक आने वाले समय के लिए बेहतर संभावनाएं दिखा रहे हैं. आज इस स्टॉक का भाव करीब एक फीसदी मजबूती के साथ 50 रुपये के आस-पास है. यह भी अपने पीक से करीब 23 फीसदी नीचे है.

सेल (Sail): स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड की गिनती नवरत्नों में होती है. बदली भू-राजनीतिक परिस्थितियों ने भी मेटल खासकर स्टील स्टॉक्स की अहमियत बढ़ा दी है. सरकार ने घरेलू बाजार में कीमतों पर अंकुश लगाने के लिए एक्सपोर्ट पर शुल्क बढ़ाया है. आज के कारोबार में इसका भाव भी करीब एक फीसदी गिरा हुआ है. दूसरी ओर ऑल टाइम हाई से इसकी कीमत 50 फीसदी से ज्यादा टूटी हुई है. कभी 145.90 रुपये तक पहुंचा यह स्टॉक अभी 70 रुपये के आस-पास ट्रेड कर रहा है.

(Disclaimer: शेयर बाजार में पैसे लगाने पर कई तरह के रिस्क होते हैं. स्टॉक मार्केट में पैसे लगाने से पहले आप खुद से रिसर्च जरूर करें या अपने पर्सनल फाइनेंस एडवाइजर की सलाह लें.)

किसी कंपनी का शेयर खरीदने से पहले इस तरह चेक करें कि वह सस्ता है या महंगा, हमेशा फायदे में रहेंगे

आमतौर पर नए-नए निवेशकों को 500 रुपये के मुकाबले 50 रुपये वाले स्टॉक ज्यादा आकर्षक लगते हैं, सस्ते लगते हैं। ये उन निवेशकों की बड़ी भूल हो सकती है।

India TV Paisa Desk

Edited By: India TV Paisa Desk
Updated on: November 09, 2022 15:02 IST

शेयर - India TV Hindi News

Photo:FILE शेयर

नई दिल्ली, अनीश कुमार सिंह। म्यूचुअल फंड से अपनी इन्वेस्टमेंट की यात्रा शुरू करने के बाद एक समय ऐसा आता है कि आप शेयरों को भी इन्वेस्टमेंट के लिहाज से खरीदकर लॉन्ग टर्म के लिए रखना चाहते हैं। ऐसे में बहुत से लोग पेनी स्टॉक में फंस जाते हैं। पेनी स्टॉक वैसे स्टॉक होते हैं जिनकी कीमत 50 रुपये प्रति शेयर से कम होती है। नए-नए इन्वेस्टर्स इन पेनी स्टॉक को सस्ता समझकर खरीद लेते हैं। चूंकि इस तरह के स्टॉक में Volatility यानी अस्थिरता ज्यादा होती है और इनमें से कई फंडामेंटली स्ट्रॉन्ग भी नहीं होते, इसलिए नए-नए निवेशक इन पेनी स्टॉक्स में उलझकर अपना बड़ा नुकसान कर लेते हैं। ऐसे नुकसान से बचने के लिए क्या करें, आइए जानते हैं।

शेयर लेने में सब्जी खरीदने जैसा दिमाग लगाएं

आमतौर पर नए-नए निवेशकों को 500 रुपये के मुकाबले 50 रुपये वाले स्टॉक ज्यादा आकर्षक लगते हैं, सस्ते लगते हैं। ये उन निवेशकों की बड़ी भूल हो सकती है। इसे आप एक उदाहरण से समझ सकते हैं। आप सब्जी मार्केट जाते हैं। वहां आपको आलू 50 रुपये किलो मिल रहा होता है, और परवल 60 रुपये किलो। आप किसे सस्ता समझेंगे। जो लोग सब्जी मार्केट नहीं जाते हैं उन्हें आलू और परवल में यहां आलू सस्ता लगेगा, लेकिन हकीकत में यहां आलू के मुकाबले परवल सस्ता है। अमूमन आलू का भाव खुदरा मार्केट में 30 रुपये प्रति किलो के ईर्द-गिर्द रहता है बशर्ते कि उसकी सप्लाई में कोई बड़ी कमी न हो, या फिर किसी अप्रत्याशित कारण से अचानक उसकी डिमांड न बढ़ गई हो। जबकि परवल अपने सीजन में 15 से 20 रुपये पाव के हिसाब से दिल्ली-एनसीआर में आसानी से मिल जाता है। यानी परवल की यहां Intrinsic Value(जिसे हम आम बोल-चाल की भाषा में मोलाई भाव भी कह सकते हैं)उसके करेंट प्राइस के बराबर या पास में है। यानि आमतौर पर कोई भी ग्राहक दुकानदार से दाम कम करने के लिए नहीं कहेगा। इसका मतलब ये है कि उस ग्राहक को पता है कि परवल सही दाम पर बिक रहा है। और वो अपने हिसाब से परवल ले लेता है। लेकिन 50 रुपये प्रति किलो आलू बेचने वाले के पास ग्राहक जाकर उससे दाम कम करने के लिए जरूर कहेगा। यानी उस ग्राहक को आलू का Intrinsic Value पता है। जो अभी काफी ज्यादा है। इस उदाहरण से आप समझ गए होंगे कि परवल यहां आलू के मुकाबले सस्ता है। अगर आप ये बात जान गए तो आप अच्छे शेयर का चुनाव भी कुछ यही फॉर्मूला लगाकर कर सकते हैं।

Intrinsic शेयरों की खरीद Value बताएगा शेयर सस्ता है या महंगा

आसान शब्दों में कहें तो जिस तरह आप सब्जी खरीदने में आम तौर पर मोलाई करते हैं। यानी सब्जी के दाम को कम करने के लिए दुकानदार को शेयरों की खरीद कहते हैं, ठीक उसी तरह का काम इन्वेस्टमेंट की भाषा में Intrinsic Value का है। शेयर सस्ता है या महंगा बहुत हद तक इससे पता चल जाता है। अगर शेयर की करेंट प्राइस Intrinsic Value से अधिक है तो शेयर महंगा है, और अगर कम है तो शेयर लेने लायक है (ऊपर के उदाहरण से आपको ये बात समझ आ गई होगी) आपको Intrinsic Value निकालने की जरूरत भी नहीं। इसे आप गूगल में सर्च कर देख सकते हैं या फिर टिकर टेप जैसी साइट पर जाकर इसे देख सकते हैं। चलिए सस्ते शेयर का पता लगाने के लिए Intrinsic Value को समझने का पहला स्टेज तो आप पार कर गए, अब बारी आती है दूसरे स्टेज की।

PE Ratio जानकर सस्ते शेयर को चुने

इसे Price Upon Earning Ratio कहते हैं। साधारण भाषा में कहें तो किसी शेयर से 1 रुपये कमाने के लिए कितने रुपये आपको लगाने पड़ेंगे, ये PE Ratio से पता लगता है। किसी शेयर का PE जितना कम हो उतना सही माना जाता है। एक उदाहरण से समझते हैं, मान लीजिए आपकी लिस्ट में एक ही क्षेत्र की दो बड़ी कंपनियां हैं। दोनों कंपनियां अच्छा रिटर्न जेनरेट कर रही हैं। एक कंपनी का PE ज्यादा और दूसरी का कम है, तो पहली नज़र में जिस कंपनी का PE कम है उसपर आपको फोकस करना चाहिए। आम तौर पर 20 या इससे कम की PE अच्छी मानी जाती है। लेकिन कुछ इमर्जिंग शेयरों के लिए ये Ratio बहुत ज्यादा भी हो सकता है। वैसे तीन और जरूरी Ratio होते हैं जिनका इस्तेमाल हम अच्छे शेयर के चुनाव में करते हैं। PB ratio, Current ratio और Debt to Equity ratio..जिन्हें हम बाद में जानेंगे।

जो शेयर अच्छा है, जरूरी नहीं अभी सस्ता है

इसका एक बेहतरीन उदाहरण आपको देता हूं। मेरे एक मित्र को D-Mart का शेयर बहुत अच्छा लगा(इस शेयर का जिक्र महज उदाहरण के तौर पर किया गया है, इसे किसी तरह का Recommendation न समझें) आमतौर पर हम सुनते हैं कि उसी स्टॉक में निवेश करो जिसके बारे में आप जानते हैं, जिसका प्रोडक्ट आप इस्तेमाल करते हैं। ये ठीक भी है। FMCG सेक्टर में HUL और ITC के प्रोडक्ट्स किसके घर में प्रयोग नहीं किए जाते। लेकिन अगर इसके प्रोडक्ट्स बाजार भाव से सस्ते में मिले तो क्या कहना। मेरे एक मित्र मेरे पास आए और बोले, भाई D-Mart में सामान सस्ते मिलते हैं। लोगों की काफी भीड़ रहती है। सामान हाथों-हाथ बिक जाते हैं। ये कंपनी शानदार प्रॉफिट बनाती होगी। तो क्यों न इसके शेयर लिए जाएं, तो सुझाव ये है कि अभी इस शेयर को इन्वेस्टमेंट के लिहाज से नहीं लिया जा सकता। इसके दो कारण हैं। पहला कारण इसका करेंट प्राइस इसकी Intrinsic Value से ज्यादा है। यानी खरीदने के लिए जो इसका भाव होना चाहिए ये उससे काफी महंगे रेट पर मौजूद है(ख़बर लिखे जाने के दिन तक) और दूसरी बात ये कि इसका PE Ratio भी सेक्टर के PE की तुलना में ज्यादा है। फिलहाल इसका PE:187 है। यानी इस शेयर से एक रुपये कमाने के लिए आपको 187 रुपये लगाने होंगे। हां, आप एक काम कर सकते हैं, इस शेयर को हर डेढ़ या 2 फीसदी की गिरावट पर खरीदते जाएं। या फिर किसी बड़े डीप करेक्शन का इंतज़ार करें। जिसमें आपका मनपसंद स्टॉक अपने Intrinsic Value के आस-पास आ जाए, या फिर उसका PE ratio उसके सेक्टर के ratio के आस-पास आ जाए। इस तरह आप कुछ जरूरी चीजों को समझकर अच्छे शेयर का चुनाव कर सकते हैं। और अपने पोर्टफोलियो को अलग-अलग सेक्टर के बेहतरीन स्टॉक्स से हमेशा हरियाली में रख सकते हैं, साथ ही भविष्य में बढ़िया पैसे जनरेट कर पाएंगे।

(लेखक इंडिया टीवी में सीनियर एडिटर के पद पर कार्यरत हैं।)

न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज पर Twitter के शेयरों की खरीद-बिक्री शुक्रवार से हो जाएगी बंद, एलन मस्क टेकओवर के लिए तैयार

सोशल मीडिया कंपनी Twitter के साथ 44 अरब डॉलर के सौदे को पूरा करने के लिए मस्क के पास भारतीय समयानुसार 28 अक्टूबर तक दोपहर 2:30 बजे तक का समय है.

न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज पर Twitter के शेयरों की खरीद-बिक्री शुक्रवार से हो जाएगी बंद, एलन मस्क टेकओवर के लिए तैयार

अमेरिका के न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज (New York Stock Exchange) पर ट्विटर इंक (Twitter Inc) के शेयरों की खरीद-बिक्री शुक्रवार को बंद रहेगी.

अमेरिका के न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज (New York Stock Exchange) पर ट्विटर इंक (Twitter Inc) के शेयरों की खरीद-बिक्री शुक्रवार को बंद रहेगी. सोशल मीडिया कंपनी Twitter के साथ 44 अरब डॉलर के सौदे को पूरा करने के लिए मस्क के पास भारतीय समयानुसार 28 अक्टूबर तक का समय है. मस्क को इस डेडलाइन तक ट्विटर अधिग्रहण डील पूरा करना होगा. वरना उन्हें अदालत में मुकदमे का सामना करना पड़ेगा. इस दौरान, खरीदने की प्रक्रिया पूरी होने से पहले ट्विटर के शेयरों की ट्रेडिंग बंद रहेगी.

हाथ में सिंक लेकर ट्विटर हेडक्वॉर्टर पहुंचे एलन मस्‍क

बता दें कि Twitter के साथ डील पर फैसले के एक दिन पहले मस्‍क कंपनी के हेडक्‍वार्टर पहुंचे. इस दौरान मस्‍क के हाथ में एक सिंक या वॉशबेसिन भी दिख रहा था. इसके अलावा, उन्‍होंने अपने प्रोफाइल का बायो बदलकर ‘चीफ ट्वीट’ लिखा है. इससे साफ है कि अब वे सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म को खरीदने का मन बना चुके हैं.

India vs Netherlands T20 World Cup 2022 Live : भारत ने 56 रन से जीता मैच, 20 ओवर में 123 रन ही बना पाई नीदरलैंड्स की टीम

US GDP Q3 Data: अमेरिका की जीडीपी तीसरी तिमाही में 2.6% बढ़ी, शेयर बाजार में तेजी, लेकिन डिमांड की हालत अब भी चिंताजनक

Elon Musk Video: हाथ में सिंक लेकर ट्विटर हेडक्वॉर्टर पहुंचे एलन मस्‍क, प्रोफाइल का बायो बदलकर ‘Chief twit’ किया

Rishi Sunak Wealth: ब्रिटेन के सबसे अमीर पीएम होंगे ऋषि सुनक, पत्नी को सिर्फ इंफोसिस से मिला 127 करोड़ डिविडेंड

गुरुवार को ट्विटर के शेयरों में तेजी

गुरुवार के शुरुआती कारोबार में ट्विटर के शेयर लगभग 1% बढ़कर 53.94 डॉलर पर थे. बता दें कि जुलाई में चार महीने के निचले स्तर से स्टॉक लगभग 65% बढ़ गया है. न्‍यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक, मस्‍क के साथ ट्विटर की डील में शामिल सिकोया कैपिटल, बाइनेंस, कतर इन्‍वेस्‍टमेंट अथॉरिटी व अन्‍य इक्विटी इन्‍वेस्‍टर्स को भी सभी जरूरी दस्‍तावेज मस्‍क के वकील की ओर से उपलब्‍ध करा दिए गए हैं. बीते छह महीने में इस डील में कई मोड़ आए. पहले तो ट्विटर ने ऑफर को ठुकरा दिया. फिर इसे स्‍वीकार किया तो मस्‍क ने स्‍पैम अकाउंट का आरोप लगाकार डील रद्द की. जिसके बाद ट्विटर ने कोर्ट का रुख किया.

रेटिंग: 4.11
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 375
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *